मक्का और मदीना में क्या अंतर है

मक्का और मदीना में क्या अंतर है 


इस्लाम धर्म में मक्का और मदीना दो ऐसे स्थान हैं जहाँ दुनियां के हर एक मुसलमान अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार जरूर जाना चाहता है। बल्कि ये कहें इन दोनों ही स्थानों पर प्रत्येक मुसलमान को अपने जीवनकाल में कम से कम एकबार जाना आवश्यक है। यहाँ की यात्रा हज यात्रा कहलाती है। हज इस्लाम के पांच स्तम्भों में से एक माना जाता है। जहाँ मक्का में काबा स्थित है वहीँ मदीना में संसार की सबसे प्राचीन मस्जिद स्थित है। आज का यह पोस्ट मक्का और मदीना के महत्व पर प्रकाश डालता है और मक्का और मदीना में क्या अंतर है यह भी बताता है। 

The Pilgrim'S Guide, Mecca, Islam

मक्का : इस्लाम का सबसे पवित्र शहर 


मक्का मुस्लिम धर्मावलम्बियों का सबसे महत्वपूर्ण और सबसे पवित्र शहर है। यहाँ दुनियां भर से इस्लाम के अनुयायी हज करने आते हैं। हज यात्रा मुस्लिमों के लिए इस्लाम में बताये गए पांच स्तम्भों में से एक है। मक्का में हर साल करीब 40 लाख हजयात्री आते हैं।
मक्का सऊदी अरब का एक महत्वपूर्ण शहर है। इस शहर की स्थापना इस्माइल वंश ने की थी। सन 966 से 1924 तक मक्का शहर का शासन स्थानीय शरीफ के द्वारा किया जाता था। 1924 में यह शहर सऊदी अरब के नियंत्रण में आ गया। वर्तमान में यह शहर सऊदी अरब के मक्काह प्रान्त की राजधानी है। यह ऐतिहासिक हेजाज़ क्षेत्र में स्थित है। इस शहर की आबादी करीब 17000000 है। मक्का शहर जेद्दा से करीब 73 किलोमीटर की दुरी पर स्थित है। मक्का का प्राचीन नाम बक्काह है जिसे बाक़ा, बाक़ाह, बेक्का भी बोला जाता था। 


मक्का इस्लाम का सबसे पवित्र स्थान है। यहीं पर पैगम्बर मोहम्मद ने इस्लाम की घोषणा की और यह शहर इस्लाम के प्रारम्भ में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। यहाँ पर मस्जिद अल हरम स्थित है जिसके बीचोंबीच इस्लाम धर्म का पवित्र काबा स्थित है। पूरी दुनिया के मुसलमान इसी काबा की तरफ मुंह करके नमाज अदा करते हैं। इस स्थान पर हर मुस्लमान का अपने जीवनकाल में कम से कम एक बार आना अनिवार्य माना गया है। इस यात्रा को हज यात्रा कहा जाता है। हज करना इस्लाम के पांच स्तम्भों में से एक माना जाता है।

मदीना : संसार की सबसे प्राचीन मस्जिद का शहर

मदीना भी इस्लाम धर्म के अनुयाइयों के सबसे महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है। यह शहर मक्का के बाद इस्लाम का दूसरा सबसे पवित्र स्थान है। इसे नबी का शहर भी कहा जाता है। हज यात्रा पर आने वाला हर मुसलमान अपनी यात्रा के दौरान मदीने की भी यात्रा करता है।
मदीना को अल मदीना अल मुनव्वरा भी कहा जाता है। यह अरब के हेजाज़ क्षेत्र में स्थित एक शहर है। अरबी में मदीना का अर्थ शहर या नगर होता है। इसे मदिन तुन नबी अर्थात नबी का शहर कहा जाता है। मदीना मुहम्मद साहेब की हिजरत के लिए जाना जाता है। उस समय मदीना मुस्लिम साम्राज्य की राजधानी बन गया था। मदीना इस्लाम की तीन सबसे पुरानी मस्जिदों का स्थान है मस्जिद ए कुबा, मस्जिद ए नबवी और मस्जिद अल किबलतेन। मुसलमानों का मानना है कि कुरान का अंतिम सूरह मदीना में मुहम्मद साहेब को प्रकट हुआ था और उन्हें पहले मक्कन सूरह के विपरीत मेदिनन सूरह कहा जाता है। मदीना पैगम्बर मुहम्मद का दफंगानह भी है किन्तु मदीना मुहम्मद साहेब के मक्का से हिज़रत के बाद घर आने की वजह से ज्यादा प्रसिद्द है। इस्लाम के आगमन के पहले मदीना यसरिब के नाम से जाना जाता था। 

Madina, Saudi Arabia, Mohammed, Madina

मदीना में मुहम्मद साहेब ने पहली मस्जिद की स्थापना की। इस मस्जिद को कुबा मस्जिद के नाम से जाना जाता है। यह मस्जिद पहले बिजली से फिर एक बार आग से नष्ट हो गयी थी जिसे बाद में फिर से पुनःनिर्मित किया गया।
यहाँ मस्जिद अल किबलतेन मस्जिद है जो इस्लाम में अपना एक महत्वपूर्ण स्थान रखती है। हदीस के अनुसार यहीं पर मुहम्मद को आदेश हुआ कि अपने क़िब्ले को येरुशेलम से मक्का की तरफ दिशा बदलें। 


मक्का और मदीना में क्या अंतर है

  • मक़्क़ा इस्लाम मज़हब का सबसे पवित्र स्थान माना जाता है जबकि मदीना मक्का के बाद इस्लाम धर्म का सबसे पवित्र शहर है।

  • मक्का में ही मुहम्मद साहेब ने इस्लाम की स्थापना की थी जबकि मदीना में मोह्हमद साहेब ने हिज़रत की थी अर्थात मक्का छोड़कर मदीना में जाकर प्रवास किया था।
Kaaba, Mecca, Harem, Religion, Islam
  • मक्का शहर में मुस्लिमों का पवित्र काबा स्थित है जबकि मदीना में मुहम्मद साहेब द्वारा स्थापित दुनिया की सबसे पहली मस्जिद कुबा मस्जिद स्थित है।

  • मक्का सऊदी अरब के मक्काह प्रान्त की राजधानी है वहीँ मदीना सऊदी अरब हेजाज़ क्षेत्र में स्थित एक शहर है।
Cuba, Quba, Cami, Masjid, Religion

मक्का और मदीना दोनों ही स्थान इस्लाम धर्म के सबसे महत्वपूर्ण स्थानों में शुमार हैं। मक्का को इस्लाम का जन्मस्थान भी कहा जाता है। मक्का में ही पवित्र काबा स्थित है जिसके चारों ओर हजयात्री सात परिक्रमा करते हैं। मदीना इस्लाम का प्राचीनतम शहर माना जाता है और इसे दुनियां की तीन सबसे प्राचीन मस्जिदों का स्थान होने का गौरव भी हासिल है। मदीना ही वास्तव में उस जमाने में इस्लाम के प्रचार और प्रसार का केंद्र बन गया था।

मक्का और मदीना के बारे में यह पोस्ट आपको कैसा लगा, कृपया कमेंट करके बताएं और यदि पसंद आये तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही रोचक जानकारियों को हरदम पाने के लिए इस ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करें। धन्यवाद।

Post a Comment

0 Comments