परमाणु और अणु के बीच क्या अंतर है

परमाणु और अणु के बीच क्या अंतर है


हम जानते हैं कि तत्वों का निर्माण अति सूक्ष्म कणों से हुआ है। इन कणों को परमाणु कहा जाता है। एक तरह से परमाणु किसी तत्व की इकाई होता है। ये परमाणु कुछ अपवादों को जैसे अक्रिय गैसों को छोड़ कर अति क्रियाशील होते हैं और वे स्वतंत्र अवस्था में नहीं रह सकते। ये अपनी बाहरी कक्षा में स्थित इलेक्ट्रॉनों की संख्या को संतृप्त करने के लिए दूसरे परमाणुओं से क्रिया करते हैं। ऐसी स्थिति में अणु का निर्माण होता है। वैसे तो अणु भी काफी सूक्ष्म होते हैं किन्तु ये परमाणुओं की तुलना में कुछ बड़े होते हैं। अणु को भी किसी यौगिक या पदार्थ का सूक्ष्मत्तम कण या इकाई कहा जाता है और इनकी भी कुछ अपनी खूबियां होती हैं। आइये आज के इस पोस्ट में पढ़ते हैं परमाणु क्या है, अणु किसे कहते हैं और परमाणु और अणु के बीच क्या अंतर है

परमाणु की परिभाषा

किसी तत्व का सूक्ष्मत्तम कण परमाणु कहलाता है जिसमे उस तत्व के सभी गुण उपस्थित रहते हैं। सामान्यतः परमाणु को अविभाज्य माना जाता है। परमाणु को पदार्थ की एक इकाई माना जा सकता है। परमाणु इतने सूक्ष्म होते हैं कि इन्हें नंगी आँखों से और यहाँ तक कि सूक्ष्मदर्शी से भी नहीं देखा जा सकता है।

Lithium, Atom, Isolated, Atomic, Physics

परमाणु की संरचना

हालाँकि सामान्य परिस्थितियों में परमाणु अविभाज्य होते हैं तो भी कुछ विशेष परिस्थितियों में इनका विखंडन संभव है। ऐसी स्थिति में उस तत्व के मूल गुण बदल जाते हैं। परमाणु का आकार प्रायः गोल होता है। किसी परमाणु का केंद्र न्यूक्लिअस कहलाता है। परमाणु के केंद्र में न्यूट्रॉन और प्रोटोन नामक कण होते हैं जबकि इलेक्ट्रान नामक कण इस केन्द्रक के चारों ओर भिन्न भिन्न कक्षाओं में परिक्रमा करते हैं। न्यूट्रॉन उदासीन होते हैं जबकि प्रोटोन पर धनात्मक आवेश होता है और इलेक्ट्रान ऋणावेशित होते हैं। किसी परमाणु में प्रोटॉनों और इलेक्ट्रॉनों की संख्या पर ही परमाणु का आवेश निर्भर करता है। प्रोटोन की संख्या अधिक होने से परमाणु पर धनावेश और इलेक्ट्रॉनों की संख्या अधिक होने पर ऋणावेश होता है। परमाणु प्रायः स्वतंत्र अवस्था में नहीं रहते।

अणु किसे कहते हैं


दो या दो से अधिक परमाणुओं के रासायनिक बंधन द्वारा अणुओं की रचना होती है। अणु किसी यौगिक की सबसे छोटी इकाई या कण होता है जो स्वतंत्र अवस्था में रह सकता है।




अणु भी परमाणु की तरह ही अत्यंत सूक्ष्म होते हैं किन्तु इन्हें उच्च क्षमता वाले सूक्ष्मदर्शी से देखा जा सकता है। अणु स्वतंत्र अवस्था में रहते है। ये किसी रासायनिक अभिक्रिया में भाग नहीं लेते हैं। अणुओं का आकार रेखीय, कोणीय या ट्राइंगुलर होता है। अणुओं की रचना सामान परमाणुओं से भी हो सकती है तथा भिन्न परमाणुओं से भी। ऑक्सीजन के दो परमाणु मिलकर O2 अणु की रचना करते हैं और हाइड्रोजन के दो परमाणु और ऑक्सीजन का एक परमाणु मिलकर H2O यानि जल का एक अणु बनाते हैं। अणु सिंगल, डबल या ट्रिप्पल बांड में बंधे रहते हैं। अणुओं को पुनः परमाणुओं में तोडा जा सकता है।

परमाणु और अणु के बीच क्या अंतर है

Difference between atom and molecule



  • किसी तत्व की सूक्ष्मत्तम इकाई को परमाणु कहते हैं जिसमे उस तत्व के सभी गुण पाए जाते हैं जबकि किसी यौगिक की सूक्ष्मत्तम इकाई अणु होती है।


  • परमाणु स्वतंत्र अवस्था में प्रायः नहीं रहता है किन्तु अणु स्वतंत्र अवस्था में रह सकता है।
Molecules, Atom, Science, Sphere

  • परमाणु प्रोटोन, न्यूट्रॉन और इलेक्ट्रान से बने होते हैं जबकि अणु का निर्माण दो या दो से अधिक परमाणुओं के रासायनिक बंधन द्वारा होता है।

  • परमाणुओं का आकार प्रायः गोल होता है जबकि अणुओं का आकर रेखीय, कोणाकार, रेक्टेंगुलर हो सकता है।

  • अधिकांश परमाणु काफी क्रियाशील होते हैं और रासायनिक अभिक्रियाओं में भाग लेते हैं जबकि अणु रासायनिक अभिक्रियाओं में भाग नहीं लेते हैं।

  • परमाणुओं के अंदर इलेक्ट्रान और उसके केन्द्रक के बीच इलेक्ट्रोस्टेटिक बल की वजह से बंधे होते हैं जबकि अणुओं के परमाणुओं के बीच रासायनिक बंधन एकल, द्विबंधन, त्रिबंधन या सहसंयोजक बंधन का बल उन्हें बांधे रखता है।
Benzothiazine, Molecule, Compound
  • परमाणुओं को नंगी आँखों से या किसी शक्तिशाली माइक्रोस्कोप से नहीं देखा जा सकता है किन्तु अणुओं को शक्तिशाली माइक्रोस्कोप से देखा जा सकता है।
उपसंहार 

इसप्रकार हम देखते हैं कि परमाणु और अणु दोनों ही पदार्थ के सूक्ष्मत्तम कण हैं किन्तु परमाणु किसी तत्व की सूक्ष्मत्तम इकाई होता है जिसमे उस तत्व के सभी गुण मौजूद होते हैं वहीँ अणु किसी पदार्थ की इकाई होता है और इनका निर्माण परमाणुओं के आपस में क्रिया करने से होता है।

टिप्पणी पोस्ट करें

1 टिप्पणियां