Visit blogadda.com to discover Indian blogs dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है ?

dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है ?

  dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है ?


dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है ?


dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है इसे जानने से किसी भी website को मजबूत किया जा सकता है, यह बताती है कि कोई website कितना authentic है, साथ ही इसी से website की domain rating तय होती है। यह इतना महत्वपूर्ण है कि google ने स्वयं इसे किसी website को rank किए जाने के बहुत सारे algorithm में से एक महत्वपूर्ण algorithm माना है। 

तो हम यह तो जान गए  है कि किसी भी प्रकार का backlink अपने ब्लॉग को किसी भी search engine में rank  करने के लिए एक अतिआवश्यक तत्व है।  परन्तु क्या आप backlink क्या होता है यह जानते है?

इस लेख के माध्यम से हम backlink के विषय में प्रकाश डालेंगे, और चूँकि आप जानते ही है कि किन्ही दो तत्वों के मध्य अंतर को स्पष्ट करना हमारे website की विशेषता है इसलिए यहां हम difference between dofoloow and nofollow backlink के बारे में भी जानेंगे।  


     backlink  क्या होता है ?


backlink कुछ और नहीं बल्कि किसी दूसरे website के द्वारा आपके website को दिया जाने वाला reference होता है। सामान्य तौर पर यह प्रश्न पूछा जाता है कि कोई भी दूसरा website आपके website का reference क्यों देगा? इसका सीधा उत्तर होता है कि कभी कभी दूसरो के लेख इतने प्रभावी लगते है कि अपने readers को उस  लेख तक पहुंचाना आवश्यक लगता है। ऐसे में अपने website से दूसरे के website तक मार्ग बनाने के लिए link का प्रयोग किया जाता है इसे ही backlink कहते है। backlink के विषय में अधिक जानकारी के लिए इस लेख को पढ़े। 

तो backlink के बारे में सामान्य समझ तो हमें प्राप्त हो गई है। पर क्या आप जानते है कि backlink इतना महत्वपूर्ण क्यों है? आइए जानते है -


                backlink महत्वपूर्ण क्यों होता है ?


google के अनुसार page ranking के लिए backlink एक महत्वपूर्ण पहलू है। backlink से ही किसी website की domain authority (DA) तय होती है। जिस website का DA सर्वाधिक होता है उसके website को rank किया जाना  निश्चित होता है।

अब हम इसे और बारीकी से समझने का प्रयास करते है कि google किसी भी wesbite को high rank कैसे प्रदान करता होगा? आइए हम एक एक पहलू पर ध्यान देते है -


  1. यदि किसी website का content बेहद जबरदस्त हो। (इसमें readability, paragraph, सटीक words इत्यादि शामिल है।) 

  2. यदि किसी website ने बहुत अच्छा SEO कर रखा हो। (इसमें page speed, mobile friendly, meta description, meta title, headings, iamge optimization आदि सभी पहलू शामिल है।)

  3. यदि किसी website को कोई और बड़ा website reference दे रहा हो। (इसमें dofollow और nofollow backlink शामिल है।)


पर आपको यकीन नहीं होगा कि जब हमने वास्तव में page rank को लेकर research किया तो पाया कि बहुत से ऐसे site google के द्वारा top rank में स्थापित है जिनका न तो content बेहतरीन है और ना ही उन्होंने SEO पर बहुत अधिक ध्यान दिया है, परन्तु उन्होंने backlinks पर बहुत अधिक ध्यान दियाथा!!! 

इसका साफ़ साफ़ मतलब यह बनता है कि google चाहे अपने तथ्यों से लोगो को कितना ही उलझाए परन्तु फिरहाल तो किसी website का असली ranking factor, backlink ही है।

तो backlink का इतना अधिक महत्व इसी कारण है क्योंकि यह आपके page को हमेशा front row पर लाता है। आपने स्वयं भी देखा होगा कि कई ऐसे website होते है जिनका content बहुत फ़िज़ूल होता है परन्तु फिर भी वह google के top most position में मौजूद रहते है।

तो backlink का महत्व तो हम समझ चुके है आइए अब जानते है backlinks के कौन से अलग अलग प्रकार है।


backlink के प्रकार -


backlink के मुख्य दो प्रकार ही होते है, जो है -


  1. dofollow backlink

  2. nofollow backlink


उपरोक्त दोनों ही प्रकार अपने आप में बहुत व्यापक है। ये इतने बड़े topic है कि इनमे से प्रत्येक अपने आप में एक micro niche है। इसका अर्थ है कि इनके आधार पर आप अपना website खड़ा कर सकते है, और इन पर अनेको blog लिख सकते है।

आइए एक एक करके इनका अर्थ समझते है और दोनों के मध्य के अंतर को भी स्पष्ट करते है -


dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है ?


dofollow backlink क्या होता है in hindi


क्या आपने कभी यह सोचा कि google हमारे website को कैसे read करता होगा? यदि नहीं तो हम बताते है। 

दुनियाभर में 4.45 बिलियन website गूगल में है। अब google महाशय के पास जितने भी कर्मचारी है उन सबको भी यदि इन सभी website को read करने के लिए भिड़ा दिया जाए भी सभी वेबसाइट को पढ़ने में 20 साल लग जाएंगे। और तब तक नए website बन कर उभर जाएंगे जिसे read करना फिर से एक जटिल कार्य होगा।

आप इतने आश्चर्यचकित मत होइए क्योंकि यह इतना भी जटिल कार्य नहीं है जितना यह हमें प्रतीत हो रहा है। वास्तव में ऐसे सब समस्याओ के लिए google के bots काम आते है। ये bots कुछ और नहीं एक सामान्य सा artificial intelligence tool होता है, यह उन सभी website और उनके भीतर मौजूद articles को read करता है, जिसकी permission इसे दी जाती है। 

जी हाँ आपने सही पढ़ा, permission के आधार पर ही कोई artificial intelligence robot किसी वेबसाइट के भीतर जा सकता है। और इसी permission के आधार पर तय होता है कि कौन सा dofollow link है या nofollow link.

तो dofollow link क्या होता है - यदि किसी link को पढ़ने का permission robot को प्राप्त होता है तो वह link dofollow link कहलाता है। इस लिंक की खासियत ये होती है की इन्हे bots के द्वारा पढ़ा जाता हैं, और साथ ही इनको index भी जाता है तथा इसी के आधार पर हमारी domain authority (DA) को check किया जाता है।

तो backlink के आधार पर किसी page के ranking का सबसे महत्वपूर्ण पहलू dofollow backlink होता है। आपके वेबसाइट का dofollow backlink जितना अधिक होगा google उतनी आसानी से आपके site तक पहुंच बना सकेगा, और इसी कारण उसका DA भी high होगा, जिसके चलते google में उस पेज को rank करना आसान होगा। 

किसी भी लिंक को coding के भाषा में href से denote किया जाता है, परन्तु dofollow link को निम्न रूप से प्रदर्शित किया जाता है -

<Ahref="Https://Yourwebsite.Com" Rel="Dofollow">Link Text

यहां आप देख सकते है कि dofollow का विशेष tag लगा हुआ है। जिसका अर्थ है यह crawler को आदेश दे रहा है कि  follow करे।  इस प्रकार किसी webpage में  dofollow link है तो इसका साफ़ अर्थ है कि जब crawler उस page को पढ़ने के लिए आएगा और पेज read  करते हुए उस dofollow link पर पहुंचेगा तब "dofollow" का tag लगा होने की वजह से crawler उस link के भीतर घुस जाएगा, और उस page को भी read करेगा। 


Nofollow backlink क्या होता है in hindi 


अब कुछ backlink ऐसे भी होते है जिसे आप google के crawler को read नहीं करवाना चाहते। इसके कई मुख्य कारण हो सकते है -

  1. हो सकता है वह link spammy हो। 

  2. वह link porn/adult/illegal या किसी unrecognized site से लिया गया हो। 

  3. वह link website के comment section से प्राप्त हो

ऐसी बहुत सी condition होती है जब हम अपने साइट से जाने वाले link को google के द्वारा read नहीं करवाने देना चाहते। तो ऐसी condition में, nofollow backlink का प्रयोग किया जाता है। 

तो nofollow backlink क्या होता है - यदि किसी link  nofollow का tag लगा दिया जाता है जिसके कारण google crawler उस link को पढ़ने में अक्षम हो जाता है, तो उसे nofollow backlink कहते है। 

किसी link में nofollow का tag इस प्रकार दिखाई देता है -

<Ahref="Https://"Yourwebsite.Com"" Rel="Nofollow">Link Text <A

अर्थात यहां rel = "Nofollow" दिखाई दे रहा है, जिसे पढ़कर crawler उस link को छोड़ देता है। इस प्रकार किसी webpage में  dofollow link है तो इसका साफ़ अर्थ है कि जब crawler उस page को पढ़ने के लिए आएगा और पेज read  करते हुए उस nofollow link पर पहुंचेगा तब "nofollow" का tag लगा होने की वजह से crawler उस link के भीतर नहीं घुस पाएगा, और उस page को read नहीं करेगा। 

अब चूँकि हम dofollow और nofollow दोनों का अर्थ समझ चुके है, तो अब हम backlink कैसे बनाना चाहिए इस विषय में जानकारी लेते है -


 backlink कैसे बनाए in hindi


backlink  बनाने के बहुत से तरीके है, परन्तु यह इतना आसान भी नहीं है। क्योंकि यहाँ आपको अपने साइट के साथ साथ  दूसरे के site के विषय में भी सोचना पड़ता है। क्योंकि backlink बनाने के लिए दो पक्ष का होना जरूरी है, उसमे पहला है वो व्यक्ति जो backlink दे रहा है, और दूसरा वह व्यक्ति जो backlink ले रहा है। तो जहां कहीं भी दो पक्ष आते है वहां समबन्ध और व्यवहार  की बात आती है। तो इससे मामला थोड़ा कठिन हो जाता है आइए देखते है backlink बनाने के प्रमुख तरीके कौन कौन से है -


  1. गेस्ट ब्लॉग्गिंग के माध्यम से 

  2. कमेंट सेक्शन में अपना link दे कर 

  3. सोशल मीडिया में अपना लिंक प्रोवाइड कर के

  4. पैसे देकर backlink बनाना 

  5. image के साथ backlink बनाना 

  6. broken link method के माध्यम से 

  7. अपने प्रतिद्वंदी को देखकर 

  8. अपने content को promote करके 

  9. testimonials के माध्यम से 

  10. infographic के माध्यम से


dofollow and nofollow backlink के बीच के अंतर को कैसे पहचाने ?

तो dofollow और nofollow backlink के मध्य का अंतर तो स्पष्ट रूप से हम जान चुके है। परन्तु किसी link को देखकर हम इसका पता कैसे लगाएंगे कि यह backlink dofollow है या nofollow backlink?

इसके दो आसान तरीके है -

  1. page source के माध्यम से 

  2. plugin या extension के माध्यम से 

आइए एक एक कर विस्तार से दोनों के बारे में समझते है -


1 page source के माध्यम से dofollow और nofollow backlink के बीच का difference जानना -


page source किसी भी webpage के मुख्य coding को प्रकट करता है। किसी भी webpage का मुख्य coding जानने के लिए आपको निम्न कार्य करने होंगे -

  1. सबसे पहले उस page पर जाइए जहाँ आपको page source जानना हो।

  2. अपने mouse से right click करे 

  3. आपको एक ऑप्शन दिखाई देगा view page source करके

  4. उस पर left click दबा दे। 

नोट  :- इतने परपंच करने से बेहतर इसका एक शॉर्टकट भी है आपको कुछ नहीं करना है सीधे webpage पर जाए और ctrl+U बटन keyboard के माध्यम से दबा दे। 

अब चूँकि आपने page source पर कैसे पहुंचते है यह जान लिया है। अब आपको एक काम और करना होगा इस page में दिख रहे link को ध्यान से पढ़े इसमें आपको कही न कही dofollow या nofollow का tag दिखाई दे देगा। वैसे dofollow का tag दिखना आवश्यक नहीं होता क्योंकि यदि आपको सामान्य link दिखता है वह भी dofollow ही होता है। 

यदि आपको फिर उस परपंच से बचना है तो कुछ नहीं ctrl +F दबाइये और लिख दीजिए nofollow आपको लाइन से उस पेज में जितने भी nofollow backlink है सब दिख जाएंगे। 


2. plugin या extension के माध्यम से dofollow और nofollow backlink के बीच का difference जानना


यदि आप गूगल क्रोम यूजर है तो extension का अर्थ जानते ही होंगे। क्रोम में एक extension होता है जिसका नाम nofollow extension है। आपको कुछ नहीं करना है, केवल अपने chrome के search बार में क्रोम वेब स्टोर सर्च करना है और इसके खुल जाने पर आपको nofollow extnension सर्च करना है। 

एक बार इस extnension को लगा लेने पर आप किसी भी पेज के links को समझ जाएंगे कि यह dofollow backlink है या nofollow backlink. क्योंकि इस extnension की खासियत यह है कि ये link के ऊपर एक colourful घेरा बना देता है। यदि link dofollow है तो green और यदि यह nofollow है तो red.


>अंतिम शब्द : dofollow and nofollow backlink में क्या अंतर है?


इस लेख के माध्यम से हमने backlink का अर्थ समझा साथ ही backlink के दो  प्रकार भी जाने जो dofollow and nofollow backlink होते है। आगे हमने इन दोनों के बीच का differnce between dofollow and nofollow in hindi के बारे में भी जाना।

आशा करते है कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। यदि आपको इस लेख या हमारे किसी भी लेख से सम्बंधित कोई भी शंका हो तो नीचे दिए comment करके हम से पूछ सकते है। धन्यवाद

               

लेखक के बारे में-ashish kumar banchhor

Ashish Kumar Banchhor

आशीष कुमार छत्तीसगढ़ से है इन्हे तकनीक, SEO और ब्लॉग्गिंग के क्षेत्र में लेख लिखना पसंद है। आशीष ने कृषि अभियांत्रिकी में स्नातक की उपाधि धारण की है। वर्तमान में hindlekh.com के संस्थापक है और अस्थायी ब्लॉगर के रूप में लोगो की सहायता करने के लिए Freelancer के रूप में कार्य भी करते है।


एक टिप्पणी भेजें

2 टिप्पणियाँ