गाय के दूध और भैंस के दूध में क्या अंतर है ?



दूध को सम्पूर्ण आहार माना जाता है। यह शरीर को ऊर्जा, पोषण और अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करता है। यही कारण है दूध प्राचीन काल से ही हमारे भोजन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। मनुष्यों के लिए दूध का मुख्य स्रोत गाय तथा भैंस रहे हैं। दोनों का दूध ऊर्जा से भरपूर, स्वास्थ्यवर्धक और हमारे शरीर के विकास और पोषण के गुणों से युक्त होता है। दोनों यानि गाय और भैंस का दूध हमारी यौनशक्ति वर्धक और बलवर्धक होता है। 
 ऐसे में कई बार यह कन्फ्यूजन होता है कि हमारे लिए गाय का दूध अच्छा है या भैंस का। तो आइये देखते हैं गाय और भैंस के दूध में क्या अंतर है ?


Glass, Milk, White, Cow'S Milk, Pour A

गाय के दूध और भैंस के दूध में क्या अंतर है ?

Gaay Aur Bhains Ke Doodh Me Antar

  • घनत्व : गाय का दूध भैंस के दूध के मुकाबले काफी पतला होता है इसका कारण है कि गाय के दूध में पानी की मात्रा अधिक होती है है। गाय के दूध में लगभग नब्बे प्रतिशत पानी होता है। 

  • ऊर्जा : एक कप गाय के दूध में 148 कैलोरी ऊर्जा होती है जबकि एक कप भैंस के दूध में 237 कैलोरी ऊर्जा होती है।
  • कोलेस्ट्रॉल : कोलेस्ट्रॉल गाय के दूध में कम पाया जाता है जबकि भैंस के दूध में ज्यादा। इसी वजह से डायबिटीज,ब्लड प्रेशर और हार्ट के मरीजों को भैंस के दूध का सेवन करना चाहिए।

  • खनिज : गाय के दूध की तुलना में कैल्सियम, मैग्नेशियम और पोटैशियम भैंस के दूध में ज्यादा पाया जाता है।
Livestock, Cows, Cattle, Animals, Farm
  • प्रोटीन : जैसा कि सर्वज्ञात है कि दूध प्रोटीन का अच्छा स्रोत होता है, गाय और भैसं के दूध में भी प्रोटीन प्रचुर मात्रा में पायी जाती है किन्तु गाय के दूध की अपेक्षा भैंस के दूध में प्रोटीन की मात्रा 11 प्रतिशत तक अधिक होती है। प्रोटीन अधिक होने की वजह से भैंस का दूध पचने में थोड़ा कठिन होता है। इसी वजह से छोटे बच्चों और अधिक उम्र के बुजुर्गों के लिए इसे सही नहीं माना जाता है।

  • वसा : गाय के दूध की तुलना में भैंस के दूध में दुगुना फैट की मात्रा होती है। इसी वजह से यह सुपाच्य नहीं होता है। इसी कारण छोटे बच्चों को भैंस की अपेक्षा गाय के दूध को तरजीह दी जाती है।

  • नींद : अच्छी और गहरी निद्रा के लिए गाय की अपेक्षा भैंस का दूध ज्यादा उपयोगी माना जाता है। भैंस के दूध में गहरी निद्रा लाने का गुण पाया जाता है।
African, Buffalo, Heard, Big, Horns
  • पित्त : गाय के दूध से तैयार घी पित्त को शांत करता है जिससे कि हमारी पाचन क्रिया सुचारु रूप से चलती है वहीँ भैंस के दूध से बना घी कफ बढ़ाता है।
  • भण्डारण : गाय के दूध की अपेक्षा भैंस के दूध को ज्यादा समय तक सुरक्षित रखा जा सकता है। 

Post a Comment

0 Comments