Sign In और Log In में क्या अंतर है



आज इटरनेट के इस युग में Sign In और Log In शब्दों से लगभग सबका सामना होता है। इन्हीं के द्वारा हम किसी वेबसाइट को यूज़ कर पाते हैं। ये वेबसाइट और यूजर दोनों की सुरक्षा के लिए होते हैं ताकि कोई अन्य उस वेबसाइट में प्रवेश न कर सके और न ही उसका मिसयूज कर सके। इंटरनेट यूजर के मन में कई बार ये सवाल आता है कि Sign In और Log In दोनों में अंतर क्या है और वेबसाइट में ये क्यों प्रयोग किये जाते हैं। आईये देखते हैं Sign In और Log In क्या हैं और इनका क्यों प्रयोग होता है

Image result for sign in gmail



Sign In क्या है



इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए हमें एक अकाउंट बनाना पड़ता है। इस अकाउंट बनाने की प्रक्रिया को रजिस्ट्रेशन या Sign Up भी कहते हैं। यह अकाउंट केवल एक बार बनाना पड़ता है और इसमें बहुत सारी निजी जानकारी देनी पड़ती है जैसे अपना नाम, मोबाइल नंबर, पता, लिंग आदि। इसके बाद हमें उस वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए केवल हमें अपना यूजर आईडी और पासवर्ड डालना पड़ता है और हम उस वेबसाइट को यूज़ कर सकते हैं। तो पहले से बने अकाउंट को अपने यूजर आईडी और पासवर्ड द्वारा ओपन करने की प्रक्रिया Sign In कहलाती है। दूसरे शब्दों में यह एक प्रवेशद्वार है जिससे होकर हम उस वेबसाइट में प्रवेश कर सकते हैं। मतलब यदि आपके पास प्रवेशपत्र है तो गेट पर आप उसे दिखाकर अंदर जा सकते हैं।उदहारण के तौर पर हम जीमेल को ले सकते हैं। जीमेल को यूज़ करने के लिए हमें जीमेल को Sign In करना पड़ता है और तभी हम ईमेल चेक कर सकते हैं और सेंड कर सकते हैं। Sign In वास्तव में आपके अकाउंट की सुरक्षा के लिए भी होता है जिससे कि कोई अन्य आपके अकाउंट को एक्सेस न कर सके और कोई मिसयूज न कर सके।

Image result for sign in gmail


Log In क्या होता है



इंटरनेट पर बहुत सी वेबसाइट अपने साइट को यूज़ करने के लिए sign in की जगह Log In का ऑप्शन देती हैं। Sign In की तरह ही Log In भी किसी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए एंट्रेंस होता है जिससे होकर ही हम उसे वेबसाइट का प्रयोग कर सकते हैं। वास्तव में दोनों का ही काम होता है सही यूजर की पहचान करना और उसे उस वेबसाइट के अंदर लेजाना किन्तु अब प्रश्न उठता है कि जब दोनों के फंक्शन समान हैं तो फिर कुछ जगह Log In ऑप्शन क्यों दिया जाता है। Log In वास्तव में वैसी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए होता है जो वेबसाइट आपका डाटा स्टोर करती हैं। मतलब आप उस वेबसाइट पर क्या देखे, कितनी देर देखे, आपकी पसंद नापसंद आदि सभी की जानकारी उस वेबसाइट पर रिकॉर्ड होती रहती है। यह ऑप्शन ज्यादातर ऑनलाइन शॉपिंग, सोशल मीडिया आदि वेबसाइट पर होता है। Log In करने के लिए आपके पास एक यूजर आईडी और पासवर्ड होता है जो उस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन के समय आपने बनाया था।

Login, Register, Window, Button, Website


Sign In और Log In में क्या अंतर है


  • Sign In वैसी वेबसाइट के लिए होता है जो आपका डाटा स्टोर नहीं करती। उदहारण के लिए जीमेल पर आपको Sign In का ऑप्शन मिलता है। जीमेल पर आप के इमेल्स का रिकॉर्ड तो रहता है किन्तु वह केवल आपके यूज़ के लिए होता है। आप किस मेल पर कितना समय बिताये, आपके पसंद, नापसंद की कोई जानकारी जीमेल के पास नहीं रहती। पर वैसी वेबसाइट जो आपका डाटा स्टोर करती हैं आपकी हर गतिविधि का अध्ययन करती हैं आपके पसंद,नापसंद सबको परखती हैं उनपर Log In के द्वारा एक्सेस की सुविधा होती है।

Image result for sign in gmail


  • Sign In प्रायः ईमेल और कुछ अन्य वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए होता है वहीँ Log In प्रायः सोशल मीडिया ऑनलाइन शॉपिंग की साइट्स जैसे फेसबुक, ट्विटर, अमेज़न आदि को एक्सेस करने के लिए होता है।




  • Sign In प्रायः उन साइट्स पर होते हैं जहाँ यूजर कम समय व्यतीत करता है जबकि Log In वैसी साइट्स पर जहाँ यूजर काफी समय व्यतीत करते हैं उन साइट्स पर एक्सेस करने का ऑप्शन होता है।
Call, Iphone, Log In, Login, Mobile



  • Sign In में खरीदारी या किसी प्रकार का सर्वे आदि कुछ भी नहीं रहता है जबकि Log In उन साइट्स के लिए होता है जहाँ खरीदारी या पब्लिक ओपिनियन के लिए स्थान होता है।

  • Sign In जिन वेबसाइट पर रहता है वहां आपकी निजी जानकारी सुरक्षित रहती है जबकि Log In में चुकि आपका निजी व्यवहार, पसंद, नापसंद आदि सबका रिकॉर्ड रहता है अतः आपके डाटा के दुरुपयोग की कई बार संभावना होती है।




दोस्तों उम्मीद है अब आप समझ गए होंगे कि Sign In और Log In क्या हैं और दोनों में अंतर क्या है और उनका प्रयोग क्यों और कहाँ होता है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां