H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा क्या है, H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा में क्या अंतर है

H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा में क्या अंतर है


संयुक्त राज्य अमेरिका में काम करना और वहां बसना अधिकांश युवाओं का सपना होता है। यूएसए की चमक दमक और पैसा हमेशा से ही पूरी दुनियां को आकर्षित करते रहे हैं। कई लोग पर्यटन तो कई लोग अध्ययन के लिए अमेरिका जाना चाहते हैं। अमेरिका भी अपनी विकास और अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ और सुचारू रखने के लिए बहुत कुछ विदेशी कुशल और योग्य कर्मचारियों पर निर्भर है। अमेरिका में पुरे विश्व से एक तरह से प्रतिभाओं का आयात किया जाता है। अमेरिका की समृद्धि में इन प्रतिभा संपन्न,कुशल, योग्य और परिश्रमी कामगारों का बहुत बड़ा योगदान है। 






अमेरिका में काम करने या प्रवेश करने के लिए अन्य देशों की तरह वीजा की आवश्यकता होती है। अमेरिका अपने यहाँ आने के लिए लगभग 185 तरह का वीजा जारी करता है। ये सभी अलग अलग यात्रा उद्द्येश्यों के लिए होते हैं। अमेरिका में काम करने के लिए मुख्य रूप से दो तरह के वीजा दिए जाते हैं एच-1 बी वीजा और एच-2बी वीजा। इन दोनों तरह के वीजा का मुख्य उद्द्येश्य अमेरिका को विदेशी कामगार उपलब्ध कराना होता है। वैसे तो इन दोनों तरह के वीजा का मकसद अमेरिका में काम करना होता है किन्तु इन दोनों तरह के वीजा में काफी अंतर है। आइये देखते हैं H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा में क्या अंतर है ?

Empire State Building, Usa


H-1B वीज़ा क्या है


H-1B वीज़ा संयुक्त राज्य अमेरिका में एक गैर प्रवासी वीजा है जिसे अमेरिका की नियोक्ता कम्पनियों को उनके यहाँ कुशल कर्मचारियों की कमी को पूरा करने के लिए बाहर से विशेषज्ञ कर्मचारियों को बुलाने के लिए अमेरिकी सरकार के द्वारा जारी किया जाता है।


H-1B वीज़ा संयुक्त राज्य अमेरिका की इमिग्रेशन एन्ड नेशनलिटी एक्ट की धारा 101 (ए)(15)(एच) के अंतर्गत जारी किया जाता है।


H-1B वीज़ा के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए


H-1B वीज़ा अमेरिकी कम्पनियों को बाहर के देशों से कुशल कर्मचारियों को अपने यहाँ नियुक्त करने की सुविधा प्रदान करता है लेकिन इसकी कुछ शर्तें हैं। कंपनियां अपने यहाँ केवल वैसे कर्मचारियों को रख सकती है जिसकी अमेरिका में कमी हो। इसके साथ ही अप्रवासी कर्मचारी स्नातक के साथ साथ किसी विषय में विशेष योग्यता रखता हो। वैसे तो उसे कम से कम 12 साल काम का अनुभव होना चाहिए किन्तु कुछ शर्तों के साथ इसमें ढील मिल जाती है। एक बात और ध्यान देने योग्य है कर्मचारी की डिग्री और नौकरी के लिए आवश्यक डिग्री एक ही होनी चाहिए। साथ ही H-1B वीज़ा के लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन नहीं कर सकता बल्कि उस व्यक्ति की तरफ से कंपनी को आवेदन करना होगा। H-1B वीज़ा केवल उसी पद के लिए जारी हो सकता है जिसकी सैलरी कम से कम 60 000 अमेरिकी डॉलर सालाना हो।


H-1B वीज़ा कितने सालों के लिए जारी किया जाता है


H-1B वीज़ा किसी व्यक्ति को तीन सालों के लिए दिया जाता है और इसे अधिकतम 6 वर्षों के लिए बढ़ाया जा सकता है। इस वीजा की अवधि समाप्त होने के एक वर्ष पूर्व ही आवेदकों को अमेरिकी नागरिकता के लिए आवेदन करना होता है। इसके लिए आवेदक को ग्रीन कार्ड दिया जाता है। H-1B वीज़ा की अवधि समाप्त होने के बाद यदि आवेदक के पास ग्रीन कार्ड नहीं है तो उसे अगले एक साल के लिए अमेरिका से बाहर रहना होता है और अगले साल उसे फिर से H-1B वीज़ा के लिए आवेदन करना होता है।

H-1B वीज़ा की डिमांड बहुत ज्यादा होती है। इसका मुख्य कारण यह है कि यह अन्य देश के लोगों को अमेरिका में बसने और वहां की नागरिकता लेने का रास्ता आसान कर देता है। इसके साथ ही एक अन्य लाभ वीजाधारक का अपनी पत्नी/पति और बच्चों को अपने पास वीजा की अवधि तक रखने की सुविधा का होना है। वीजाधारक अपने आश्रितों को एच-4 वीजा श्रेणी के अंतर्गत रख सकता है। चूँकि इस वीजा की शर्तें बेहद आसान है अतः अमेरिका में काम करने और वहां बसने के इच्छुक लोगों के बीच इसका आकर्षण बहुत ज्यादा है। ज्यादा मांग होने की वजह से इस वीजा को जारी करने के लिए लाटरी का सहारा लिया जाता है।

H-2B वीज़ा क्या है


H-2B वीज़ा एक गैर अप्रवासी अमेरिकी वीजा है जो अमेरिकी नियोक्ताओं को विदेशी कामगारों को अस्थाई तौर पर काम पर रखने की अनुमति देता है। H-2B वीज़ा एक गैर कृषि क्षेत्र के लिए जारी किये जाने वाला वीजा है जिसे एक बार के लिए या सामायिक अथवा कुछ ख़ास अवसरों पर काम करने के लिए विदेशी कामगारों, श्रमिकों और कलाकारों के लिए जारी किया जाता है।


H-2B वीज़ा किसके द्वारा जारी किया जाता है


H-2B वीज़ा यूनाइटेड स्टेट्स सिटीजनशिप एंड इमीग्रेशन सर्विसेज (USCIS) द्वारा जारी किया जाता है। इस वीजा का उद्द्येश्य कम्पनियों को एक निश्चित समयवधि के लिए गैरकृषि क्षेत्र में काम करने के लिए अन्य देशों से वर्कर्स उपलब्ध कराना है जिससे उनके यहाँ काम न रुके।


H-2B वीज़ा हर वर्ष कितना जारी होता है


USCIS हर साल 66000 H-2B वीज़ा जारी करता है। यह दो बैच में जारी होता है यानि हर बैच में 33000 वीजा जारी किये जाते हैं। एक बैच प्रत्येक वर्ष जनवरी में जारी होता है और दूसरा जून में। H-2B वीज़ा फर्स्ट कम, फर्स्ट सर्व के आधार पर जारी किया जाता है।


H-2B वीज़ा कितने वर्ष के लिए जारी किया जाता है


H-2B वीजा पर अमेरिका में अस्थाई तौर पर निवास किया जा सकता है। यह मुख्य रूप से नियोक्ता के काम के ऊपर निर्भर करता है किन्तु फिर भी इस वीजा के अंतर्गत अमेरिका में अधिकतम एक वर्ष तक ही रहा जा सकता है। वीजा की अवधि समाप्त होने पर वीजा धारक को तुरंत अमेरिका छोड़ना होता है। कुछ विशेष परिस्थितियों में नियोक्ता इस वीजा को बढ़ाने की अनुमति का आग्रह कर सकता है किन्तु किसी भी परिस्थिति में इसे तीन वर्ष से ज्यादा की अवधि तक नहीं बढ़ाया जा सकता है। H-2B वीजा पर अमेरिका में तीन वर्षों तक रहने के बाद वीजा धारक को तुरंत अमेरिका से जाना होता है और यदि वह फिर अमेरिका वापस आना चाहे तो उसे तीन महीने अमेरिका से बाहर रहने के बाद ही पूनः H-2B वीजा के लिए प्रयास करना चाहिए।



Passport, Visa, Ddr, Federal Republic Of


H-2B वीज़ा अपने साथ पत्नी और बच्चों को रख सकता है ?


H-2B वीजा पर अमेरिका में काम करने वाले वर्कर अपने साथ अपनी पत्नी/पति और 21 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को H-4 वीजा पर रख सकता है। किन्तु ऐसी स्थिति में उनको अमेरिका में जॉब करने का अधिकार नहीं होता है।

H-2B वीजा जारी करने के लिए नियोक्ता को USCIS में कुछ बातों विश्वास दिलाना होता है जैसे उस विशेष अस्थायी काम करने में सक्षम, इच्छुक, योग्य, और उपलब्ध अमेरिकी वर्कर पर्याप्त नहीं हैं, अप्रवासी वर्कर से अमेरिका में कार्यरत अन्य वर्करों की मजदूरी, कार्य परिस्थितियों पर विपरीत प्रभाव नहीं पड़ेगा तथा कार्य की प्रकृति अस्थाई है आदि।


H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा में क्या अंतर है



  • H-1B वीज़ा कुशल प्रोफेशनल्स के लिए जारी किया जाता है जबकि H-2B वीज़ा गैर कृषि क्षेत्र में अस्थाई कार्यों के लिए कामगारों के लिए जारी किया जाता है।

  • H-1B वीज़ा के लिया यूनिवर्सिटी की डिग्री आवश्यक शर्त है वहीँ H-2B वीज़ा के लिए ऐसी कोई शर्त नहीं है।

  • H-1B वीज़ा तीन वर्षों के लिए होता है और इसे 6 वर्ष तक एक्सटेंड किया जा सकता है वहीँ H-2B वीज़ा अस्थाई कार्य के लिए जारी किया जाता है। अतः कार्य के ऊपर निर्भर करता है। फिर भी इसे एक वर्ष तक के लिए जारी किया जाता है। कुछ विशेष परिस्थितियों में इसे तीन वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है।

  • H-1B वीज़ा अमेरिका में ग्रीन कार्ड यानि स्थाई निवास का रास्ता खोल देता है। H-2B वीज़ा में ऐसी कोई स्थिति नहीं बनती।

Statue Of Liberty, Landmark, Liberty


उपसंहार

H-1B वीज़ा और H-2B वीज़ा दोनों अमेरिका में काम करने के लिए जारी किये जाने वाले अत्यंत लोकप्रिय वीजा हैं। पुरे विश्व में इन दोनों वीजा की खूब मांग है। इन दोनों ही वीजा द्वारा जहाँ एक ओर अमेरिका अपने यहाँ कामगारों की कमी पूरा करता है वहीँ पुरे विश्व से इच्छुक और योग्य लोगों को अमेरिका में काम करने का अवसर भी मिलता है।

यह भी पढ़ें 

Post a Comment

0 Comments